दण्ड बैठक के फयदे

जिसमें यह जानकारी सामने आई है कि 280 से अधिक बूथ नक्सल, अति संवेदनशील और संवेदनशील की श्रेणी में हैं। उन्होंने दंडाधिकारियों को निर्देश दिया कि वे अपने अपने सेक्टर के बूथों का भौतिक सत्यापन करें। इस दौरान मतदान केंद्र तक जाने वाली सड़क व मतदान केंद्रों पर उपलब्ध सुविधाओं की विस्तृत रिपोर्ट तैयार कर प्रखंड कार्यालय को सुपुर्द करें। बीडीओ ने बताया कि सभी 25 पंचायतों में कुल 385 बूथ हैं। जिनमें 136 बूथ नक्सल प्रभावित घोषित किए गए हैं। इन क्षेत्रों में सेक्टर मजिस्ट्रेट को लगातार जागरूकता अभियान चलाने का निर्देश बीडीओ ने दिया। इस क्रम में सहायक निर्वाची पदाधिकारी ने नामांकन से जुड़ी जानकारियों से दंडाधिकारियों को अवगत कराया।